VK IMAGE

VK IMAGE
.

Vivekanada Vani

That love which is perfectly unselfish, is the only love, and that is of God.  -Swami Vivekananda                                                                                                                                                            Slave wants power to make slaves.  -Swami Vivekananda                                                                                                                                                            The goal of mankind is knowledge.  -Swami Vivekananda                                                                                                                                                            In the well-being of one's own nation is one 's own well-being.  -Swami Vivekananda                                                                                                                                                            If a Hindu is not spiritual, I do not call him a Hindu.  -Swami Vivekananda                                                                                                                                                            Truth alone gives strength........ Strength is the medicine for the world's disease.  -Swami Vivekananda                                                                                                                                                           

Saturday, June 8, 2019

DATE 07/06/19 - योग शिविर का आयोजन द्वितीय दिवस

योग शिविर
दिनांकः 07-06-2019







केन्द्रीय विद्यालयए बीना एवं विवेकानंद केन्द्रए कन्याकुमारी शाखा.बीना के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किये जा रहे योग शिविर के द्वितीय दिवस ;07/06/2019 पर केन्द्रीय विद्यालयए बीना के योगाचार्य श्री डेलन सिंह ने उपस्थित योगाभ्यर्थियों के लिये विभिन्न प्रकार के आसन एवं प्राणायाम का अभ्यास कराया । उपस्थित शिक्षकोंए विद्यार्थियों एवं अन्य योगाभ्यर्थियों ने आनंदपूर्वक अभ्यास किया ।

श्री राहुल उदैनिया जी ने सभी को बताया कि योग दर्शन सिर्फ भारतवर्ष के पास है । इस दर्शन को हमारे ऋषि.मुनियों ने कठोर तप तथा अथक परिश्रम से अर्जित किया है । इसे पीढ़ी दर पीढ़ी विस्तारित करते हुये आज हम तक पहुंचाया है । आज हम सबका दायित्व है कि इसका सम्पूर्ण लाभ लेते हुये अपनी आगे वाली पीढ़ी को सौंपें और योगमय जीवन जीने के लिये प्रेरित करें । वहीं भाई कल्याण सिंह ने गीत के माध्यम से जीवन में मधुरता एवं भाई प्रथमेश रजक ने खेल के माध्यम से जीवन में प्रसन्नता धारण करने के लिये प्रेरित किया ।

योगाभ्यास के सत्र में 25 लोग उपस्थित रहे ।

No comments:

Post a Comment